डीएमके नेता के सनातन धर्म वाले बयान पर भड़के बीजेपी सांसद, सोनिया गांधी पर भी बोला हमला

Umesh Mishra

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

BJP MP statement on sonia gandhi: डीएमके नेता उदयनिधि स्टालिन के सनातन धर्म को लेकर दिए बयान के बाद सियासत गरमा गई है. इस बयान को लेकर बीजेपी (bjp) कांग्रेस को घेरने का मौका भी नहीं चूक रही. बीजेपी सांसद सुमेधानंद सरस्वती (sumedhanand saraswati) ने इस बयान के बहाने सोनिया गांधी और राहुल गांधी को आड़े हाथ लिया. उन्होंने यहां तक कह दिया कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी चाहते थे कि देश स्वतंत्र होने के बाद कांग्रेस (congress) को समाप्त कर दिया जाए. सांसद ने कहा कि सोनिया गांधी क्रिश्चियन है, सनातन नहीं. सोनिया गांधी और उनके बेटे को खुश करने के लिए कांग्रेस के नेता उल्टे-सीधे बयान देते हैं. जिस तरह आदमी जमीन छोड़ देता है उसी तरह कांग्रेस ने भी अपना आधार छोड़ा.

बीजेपी की परिवर्तन संकल्प यात्रा में शामिल होने के लिए सीकर सांसद सुमेधानंद सरस्वती धौलपुर पहुंचे. इस दौरान वह मीडिया से भी मुखातिब हुए और कहा कि जहां-जहां गए, वहां-वहां के रहने वाले लोगों में जोश है कि अबकी बार भाजपा को लाना. उन्होंने कहा कि कांग्रेस पूरी तरह बौखला गई है. कांग्रेस पार्टी अपना आधार छोड़ चुकी है. जब आदमी जमीन छोड़ देता है तो वह लड़खड़ाता हैं.

उन्होंने यहां तक कह दिया कि कांग्रेसी लड़खड़ाहट के चलते क्या कह जाए, क्या बोल जाए और कहां चला जाए, उसका कोई पता नहीं हैं. इसलिए कांग्रेस के नेता कभी भारत के संदर्भ और कभी सनातन के संदर्भ में उल्टे-सीधे बयान दे रहे हैं. सीकर सांसद ने कहा कि सोनिया गांधी का मूल क्रिश्चियन है और सनातन नहीं है तो सोनिया गांधी का प्रभाव तो दिखाई देगा.

उन्होंने कांग्रेस के लोगों से कहा कि यह भारत और ऋषि, मुनियों का देश है. यह देश सनातन का है और सदैव रहेगा. बीजेपी की मौलिक विचारधारा है, भगवान राम और वेदों की विचारधारा है. उसकी दुनिया की कोई भी ताकत अब रोक नहीं सकती है.

यह भी पढ़ें...

यह भी पढ़ेंः सरकार से बर्खास्त होने के बाद अब किस पार्टी का दामन थामेंगे राजेंद्र गुढ़ा? 9 सितंबर को होगा बड़ा ऐलान!

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT