भाजपा के जन आक्रोश सम्मेलन में सांसद-विधायक की उपस्थिति में 150 लोग ही पहुंचे, कुर्सियां रही खाली

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

Jalore news: प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी द्वारा चलाई जा रही जन आक्रोश यात्रा अब अंतिम चरण में है. बीजेपी के पदाधिकारियों ने रथ के जरिए गांव-गांव यात्रा को पहुंचाया. लेकिन जानकार बताते हैं कि यात्रा अमूमन कमजोर साबित हुई. जिस जोश के साथ यात्रा प्रारम्भ हुई थी वो धरातल पर कहीं देखने को नहीं मिला. जालोर के सांचौर में सोमवार को जन आक्रोश यात्रा के अंतिम चरण में एक सम्मेलन का आयोजन हुआ. लेकिन उसमें भी कुर्सियां खाली रही. यहां जालोर-सिरोही के सांसद देवजी पटेल, जालोर बीजेपी के जिला अध्यक्ष श्रवणसिंह राव आते हैं, लेकिन सम्मेलन से दोनों नेता नदारद रहे हैं.

गुजरात के बनासकांठा से सांसद प्रबत पटेल, सिरोही के रेवदर विधायक जगसीराम कोली, पूर्व विधायक जीवाराम चौधरी, भाजपा नेता दानाराम चौधरी सहित जिले व विधानसभा के पार्टी पदाधिकारी मौजूद रहे थे. इन सभी नेताओं की तुलना में भारतीय जनता पार्टी के ही 150 कार्यकर्ता मौजूद थे. यानि जनाक्रोश कहीं नजर नही आ रहा था.

राजस्थान तक से खास बातचीत करते हुए रेवदर विधायक जगसीराम कोली बोले कि भाजपा में कोई गुटबाजी नहीं है. कमल के फूल के नेतृत्व मे विधानसभा चुनाव लड़ा जाएगा. इस पर राजस्थान तक द्वारा पूछे गए पेपर लीक प्रकरण में बीजेपी की खामोशी सहित कई सवालों के जवाब देने से बचते नजर आए. विधायक कोली ने कहां विधायक मे सरकार को घेरेंगे.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

यह भी पढ़ें: जयपुर: अधिगम कोचिंग ध्वस्त, सांसद किरोड़ीलाल बोले- अब कोचिंग में पढ़ने वाले बच्चों की फीस वापस करे सरकार

    ADVERTISEMENT