Loksabha election 2024: राम मंदिर प्राण-प्रतिष्ठा के बाद फलोदी सट्टा बाजार के चौंकाने वाले आंकड़ें!

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

Loksabha election-2024: अयोध्या में राम मंदिर की प्राण-प्रतिष्ठा हो गई है. अब इसे लेकर बीजेपी जहां जमकर क्रेडिट ले रही है. वहीं, जानकार मान रहे हैं कि लोकसभा चुनाव (Loksabha election-2024) में इसका फायदा बीजेपी को जमकर मिलेगा. जबकि कांग्रेस समेत पूरा विपक्ष इंडिया गठबंधन के सहारे बीजेपी (bjp) को सत्ता को रोकने की रणनीति पर काम कर रहा है. इस बीच अब देश के सबसे बड़ा सट्टा बाजार ने बड़ा दावा कर दिया है. फलोदी सट्टा बाजार का अनुमान है कि राम मंदिर के बाद आगामी लोकसभा चुनाव में बीजेपी के लिए 300 सीटों का आंकड़ा पार करना आसान होगा. वहीं, सट्टा बाजार ने यहा तक दावा कर दिया है कि बीजेपी 350 सीटें भी पार कर सकती है.

फलोदी सट्टा बाजार के मुताबिक आगामी चुनाव समय पर ही होने की संभावना है. इसी के साथ देशभर में बीजेपी की लहर पूरे देश में है. इस बीच बीजेपी के सत्ता में वापसी की प्रबल संभावना है.

क्या कहता है फलोदी सट्टा बाजार?

फलोदी सट्टा बाजार के मुताबिक बीतें दिनों में बीजेपी को 312-15 सीट का अनुमान जताया जा रहा था. लेकिन रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा के बाद स्थिति अब बदल गई है. अब लोकसभा में 332 से 335 सीटें भी मिल सकती है. पहले 300 सीट के लिए भाव 70-80 पैसा था, जो अब घटकर 20 पैसे का भाव हो गया. इसी बीच 350 सीट आने के भी आसार बढ़ गए. दरअसल, 350 सीट का भाव 7 रुपए था जो अब 3 रुपए हो गया. ऐसे में आंकलन यही किया जा रहा है कि बीजेपी 350 के आंकड़े को भी पार कर सकती है.

400 सीटों को लेकर भी बढ़ गए आसार!

वहीं, देशभर में बीजेपी के लिए 400 सीटों के अनुमान को लेकर भी सट्टा लगाया जा रहा है. हालांकि इसे लेकर अभी भाव काफी ज्यादा है. राम मंदिर से पहले तक यह भाव 25 रुपए तक था. लेकिन देशभर में बीजेपी के पक्ष में लहर को देखते हुए यह भाव 10 रुपए से भी कम हो गया है. फलोदी सट्टा बाजार में बीजेपी को 400 सीटें पर 8 रुपए का भाव चल रहा है. इधर, सवाल कांग्रेस की सीटों को लेकर भी है तो जवाब इस पार्टी के लिए मुश्किल भरा है. सट्टा बाजार कांग्रेस को महज 50-52 सीट ही बता रहा है. यही नहीं, भविष्य में इन सीटों के घटने की भी संभावना है.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

इसके अलावा राज्यवार सीटों की बात करें तो उत्तर भारत के राज्यों में बहुत ज्यादा कोई बदलाव संभावित नहीं है. राजस्थान में जहां बीजेपी को 24-25 यानी सभी सीट मिलने की संभावना है. वहीं, गुजरात की 26 में से 25-26 सीट मिल सकती है. जबकि दिल्ली में 6 या सभी 7 और मध्य प्रदेश में 25-26 सीट आ सकती है. बीजेपी को उत्तर प्रदेश में भी 73-75 सीटें मिलने के साथ काफी फायदा मिलने की संभावना जताई गई है.

यह भी पढ़ेंः राम मंदिर की प्राण-प्रतिष्ठा के बाद शिक्षा मंत्री ने 34 साल बाद पहनी माला, अब मथुरा को लेकर लिया ये संकल्प

    ADVERTISEMENT