जोधपुर में गजेंद्र सिंह शेखावत के खिलाफ लगे पोस्टर, लोकसभा में केंद्रीय मंत्री की राह मुश्किल?

ADVERTISEMENT

सीएम गहलोत के 'विजन 2030' पर गजेंद्र सिंह शेखावत का हमला, बोले- 'सरकार समाप्त, अब सिर्फ सर्कस बचा है'
सीएम गहलोत के 'विजन 2030' पर गजेंद्र सिंह शेखावत का हमला, बोले- 'सरकार समाप्त, अब सिर्फ सर्कस बचा है'
social share
google news

Gajendra singh shekahwat: केंद्रीय जलशक्ति मंत्री और जोधपुर सांसद गजेंद्र सिंह शेखावत से रविवार को जोधपुर दौरे पर रहे. लेकिन इस दौरान उनके विरोध में शहरभर में उनके पोस्टर दिखाए दिए. रविवार की रात ही जोधपुर शहर में उनके खिलाफ यह पोस्टर चस्पा हो रहे थे. खास बात यह है कि जिस तरह साल 2018 के चुनाव के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे का विरोध हुआ. उसी तर्ज पर ही शेखावत के खिलाफ स्लोगन नजर आ रहे हैं.

शेखावत के विरोधियों ने पोस्टर में स्लोगन लिखा है “मोदी से प्यार, शेखावत को इंकार” यह पोस्टर शहर के बनाड रोड़ स्थित वीर तेजाजी ओवर ब्रिज पर लगाए गए हैं. जब इस पूरे मामले में प्रतिक्रिया जानने के लिए केंद्रीय मंत्री शेखावत से संपर्क किया गया तो उनकी तरफ से कोई रिएक्शन नहीं आया.

दरअसल, नाराजगी इस बात को लेकर है कि शेखावत (Gajendra singh shekahwat) बीतें 10 साल से बीजेपी (bjp) सांसद है और केंद्रीय मंत्री भी हैं. लेकिन स्थानीय स्तर पर राजनीतिक कार्यकर्ताओं और नेताओं से उनका संतुलन लगातार बिगड़ रहा हैं.

विधानसभा चुनाव से बिगड़ गए समीकरण

ज्यादातर कार्यकर्ता इस बात से भी नाराज हैं कि शेखावत भाषण अच्छा देते हैं, लेकिन उनके काम नहीं होते हैं. वह कुछ चुनिंदा लोगों के ही काम कर रहे हैं. जिसके चलते असंतुष्टों की कतार भी लंबी हो रही हैं. हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव में अंदर खाने से खबरें थी कि शेखावत कई जगह पर अपने समर्थकों को टिकट दिलाना चाहते थे, हालांकि उसमें वे सफल नहीं हुए. इसके चलते भी उनके विरोधियों की संख्या बढ़ गई. पोस्टर लगने के बाद फाड़े भी गए है, लेकिन शहर में चर्चा का विषय बन गया है.

यह भी पढ़ें...

यह भी पढ़ेंः आचार्य बोले- कांग्रेस में हो रहा पायलट का अपमान, सचिन के करीबी नेता ने ही प्रमोद कृष्णम पर किया पलटवार

    ADVERTISEMENT