भारत जोड़ो यात्रा के 100 दिन पूरे, राहुल गांधी बोले- बेरोजगारी और आर्थिक असमानता के खिलाफ है यात्रा

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

Bharat Jodo Yatra: भारत जोड़ो यात्रा के आज 100 दिन पूरे हो गए हैं. इस मौके पर राहुल गांधी ने प्रेस कांफ्रेंस की. उन्होंने कहा कि आज यात्रा के 100 दिन हो गए हैं. यात्रा के 3 लक्ष्य है. पहला यह राजनीति करने का अच्छा तरीका है. महात्मा गांधी का तरीका है. साथ ही यह यात्रा बेरोजगारी और आर्थिक असमानता के खिलाफ हैं. राहुल गांधी ने कहा कि पार्टी का समर्थक हो या आम नागरिक, हर राज्य में लोग जुड़ रहे हैं.

उन्होंने पत्रकारों से कहा कि आप लोग यात्रा को दिखा नहीं रहे हो. लेकिन इसे काफी समर्थन मिला है. राजस्थान सरकार की तारीफ करते हुए कहा कि शहरी नरेगा योजना और चिरंजीवी योजना अच्छी हैं. उन्होंने कहा कि जब सड़क पर चलकर हम किसी किसान तक पहुंचते हैं तो उसे लगता है कि यह व्यक्ति दर्द सहकर आया है. जो प्यार वह व्यक्ति दे रहा हैं उसका कोई मुकाबला नहीं है.

यात्रा में अच्छा अनुभव रहा है. जब शुरू किया तो कहा कि यह दक्षिण में सफल होगी तो उत्तर में नहीं होगी. जब महाराष्ट्र में सफल हुई तो कहा कि यह हिंदी पट्टी में सफल नहीं होगी. राजस्थान में विधायकों के सामूहिक इस्तीफे के सवाल पर राहुल गांधी ने पत्रकारों से कहा कि आप चाहते हैं तो मैं विवाद करा दूंगा. लेकिन हमारी पार्टी में कोई विवाद नहीं हैं. 

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

अगले चुनाव में चेहरा कौन, राहुल गांधी टाल गए सवाल

अगले विधानसभा चुनाव में चेहरे के सवाल को राहुल गांधी टाल गए. उन्होंने कहा कि यह सवाल कांग्रेस अध्यक्ष के लिए होना चाहिए. मैं कांग्रेस अध्यक्ष नहीं हूं. यह सवाल आप खड़गे जी से पूछें, वे अध्यक्ष हैं. उन्होंने कहा कि हर पार्टी में बदलाव आता है. आज जो देश के हालात हैं उसके लिए कांग्रेस पार्टी काम कर रही है. कांग्रेस ने जिस दिन जड़ पकड़ ली. उस दिन पार्टी को कोई नहीं हरा सकता. हमारे गंभीर नेता है और जो कांग्रेसी है उन्हें यह पता हैं. भारत जोड़ो यात्रा के उद्देश्यों के सवाल पर उन्होंने कहा कि यह व्यक्ति इसलिए घूम रहा है क्योंकि बीजेपी ने इस देश में नफरत और डर को घुसा दिया है. मैंने महसूस किया है कि इस देश में मोहब्बत है और बहुत भाईचारा है. मुझे यह देखकर अच्छा लगा. यहीं इस देश का इतिहास भी है.

ADVERTISEMENT

लद्दाख और अरुणाचल प्रदेश के मामले में चीन की युद्ध की तैयारी, लेकिन सरकार नहीं सुनना चाहती

ADVERTISEMENT

आज कुछ चंद लोगों के पास बहुत कुछ हैं. लेकिन करोड़ो लोगों के सपने टूट रहे हैं. आज इस देश में अन्याय हो रहा है. आज यह अन्याय छुपाया जा रहा है. कांग्रेस पार्टी आगे देखती है. हम देश को विजन देने का काम करते हैं. यह काम बीजेपी नहीं कर सकती. लद्दाख और अरुणाचल प्रदेश में चीन की पूरी तैयारी चल रही है. लेकिन सरकार सुनना नहीं चाहती. कोई भी इस बात को समझता है तो यह युद्ध की तैयारी ही है. हमारी सरकार इवेंट की तरह काम करती है. लेकिन यहां इवेंट नहीं चल सकते.

गुजरात चुनाव की हार पर राहुल गांधी बोले कि आरएसएस-बीजेपी वाले हिंसा के रास्ते को मानते हैं. वो दो हिंदुस्तान के रास्ते पर हैं. उनका मानना हैं कि एक भाषा, एक राज्य और एक संस्कृति का वर्चस्व हो. जबकि दूसरी तरफ एक विचार है जो भारत जोड़ो यात्रा में दिख रहा है. यहां कोई लड़ नहीं रहा और ना ही कोई नफरत कर रहा हैं.

    ADVERTISEMENT