राजेन्द्र राठौड़ का बयान- लुटेरे लूट ले गए परीक्षा पेपर, प्रदेश में शुरू हुआ नौजवान की आत्महत्या का सिलसिला

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

Rajasthan News: भाजपा नेता और राजस्थान में उप नेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने कांग्रेस सरकार पर जमकर हमला बोला. उन्होंने कहा कि सभी 106 विधायक अपने आपको सरकार बचाने वाले वीर समझ रहे हैं. इसलिए लूट और झूठ का शासन राजस्थान में कायम हो गया है. वहीं, कांग्रेस सरकार मुंगेरीलाल के हसीन सपने देख रही है कि सरकार रिपीट होगी. राजस्थान निर्माण के बाद सत्तारूढ़ दल के राजनीतिक इतिहास में सबसे बड़ी हार कांग्रेस की दर्ज होगी. सरकार को बचाने वाले सभी 106 विधायक खुद को सरकार बचाने वाले वीर समझ रहे हैं. इस तरह का भ्रष्टाचार और भ्रष्टाचार से भड़की हुई आग की भट्टी आज तक नहीं देखी.

राठौड़ ने कहा कि आज प्रदेश में लूट का जो वातावरण बना हुआ है वह किसी से छुपा हुआ नहीं है. जनवरी महीने के अंदर बजट सत्र है. मुख्यमंत्री बार-बार कह रहे हैं कि यह बजट नौजवानों के लिए समर्पित है. लेकिन इस राजस्थान में सबसे त्रस्त नौजवान है. 16 प्रतियोगी परीक्षा रद्द हो गई और लुटेरे पेपर लूट ले गए. अब तो हनुमानगढ़ में राधेश्याम जैसे नौजवान की आत्महत्या के बाद यह सिलसिला प्रदेश में शुरू हो गया है.

हम इस सत्र के दौरान सरकार को घेरेंगे. अपनी कुर्सी बचाने के लिए आलाकमान का ध्यान बांटने के लिए इस तरह का सत्र आहूत हुआ है. यह सत्र उस छाया में हो रहा है जब 92 विधायक अपना त्यागपत्र दे चुके हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मां के निधन पर राठौड़ ने कहा कि नरेंद्र मोदी की मां के ऐसे संस्कार जिनकी वजह से नरेंद्र मोदी विश्व के शिखर पर पहुंचे. कहते हैं कि मां बच्चे की पहली शिक्षिका होती है. लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मां होने के बावजूद भी उन्होंने साधारण जीवन व्यतीत किया और कभी अहंकार नहीं आने दिया.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

यह भी पढ़ेंः राजस्थानः पूर्व मंत्री रघु शर्मा की नसीहत- व्यक्तिगत निष्ठा से नहीं चलती पार्टी, आलाकमान सब देख रहा

    ADVERTISEMENT