राजेंद्र राठौड़ ने परसादी लाल मीणा पर बोला जुबानी हमला, कहा- अगर ज्ञानी होते तो नहीं देते ऐसा बयान

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

Rajasthan News: राजस्थान में चुनावी साल शुरू होते ही अब नेताओं में वार पलटवार का दौर शुरू हो चुका है. कांग्रेस के विधायकों द्वारा दिए गए इस्तीफे पर राजनीतिक बयानबाजी इस समय जोरों पर है. उप नेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ शुक्रवार को दौसा पहुंचे. इस दौरान उन्होंने चिकित्सा मंत्री परसादी लाल मीणा पर जुबानी हमला बोला.

प्रसादी लाल मीणा के विधानसभा की अवमानना करने के बयान पर राजेंद्र राठौड़ ने कहा कि अगर चिकित्सा मंत्री ज्ञानी आदमी होते तो ऐसा बयान नहीं देते. माननीय न्यायालय ने गुण अवगुण के आधार पर मेरी याचिका को संज्ञान में लिया और नोटिस जारी किए हैं. न्यायालय पर टिप्पणी करने का अधिकार मुझे नहीं है शायद मंत्री जी को होगा इसलिए मंत्री जी ने टिप्पणी की है. वह वीर मंत्री हैं जो त्यागपत्र भी देते हैं और दूसरे दिन केबिनेट मीटिंग में जाते हैं और तीसरे दिन गाड़ी घोड़ों के साथ अपने निर्वाचन क्षेत्र में भी जाते हैं. यह तो वैसा ही हुआ जैसे थूक कर चाटना.

राजेंद्र राठौड़ ने कहा कि चिकित्सा मंत्री परसादी लाल मीणा से पूछा जाए कि उन्होंने पहले त्यागपत्र क्यों दिया था और अब लाइन में लगकर क्यों ले रहे हैं. गौरतलब है कि प्रसादी लाल मीणा ने कुछ दिन पहले कहा था स्पीकर के आदेश के खिलाफ हाईकोर्ट में जाना भी विधानसभा की अवमानना है. न्यायालय में न्याय होता है. इस्तीफा लेना देना विधायक का अधिकार होता है.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

यह भी पढ़ें: एसीबी के फरमान पर हनुमान बेनीवाल बरसे- भ्रष्ट अफसरों को बचाने का तुगलकी फरमान हो रद्द

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT