आगामी चुनाव में बीजेपी के सीएम फेस पर प्रदेश अध्यक्ष पूनिया ने कही ये बात

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

Rajasthan News: राजस्थान के करौली जिले में बीजेपी की जन आक्रोश रैली के समापन पर प्रदेश अध्यक्ष डॉक्टर सतीश पूनिया ने कहा कि यहां कोई मुख्यमंत्री की लड़ाई नहीं है. लड़ाई है कांग्रेस पार्टी को सत्ता से बाहर करने की और बीजेपी को सत्ता पर काबिज करने की. केंद्रीय संसदीय दल जैसे नेता तय करेंगे उसे सभी अपना सर्वमान्य नेता मानेंगे.

डॉ. सतीश पूनिया ने कैला देवी से करौली स्थित मदन मोहन जी मंदिर की 25 किलोमीटर की यात्रा जन आक्रोश रैली के समापन के रूप में की. इस बीच भाजपा कार्यकर्ताओं ने जगह-जगह उनका स्वागत किया.

इस दौरान उन्होंने राजस्थान तक से बात करते हुए कहा कि 2018 से काबिज हुई कांग्रेस सरकार पूरी तरह विफल रही है. जिसके कारण प्रदेश में अपराध बढ़ा है. भ्रष्टाचार बढ़ा है. बिजली-पानी-सड़क के लिए लोग परेशान हैं. बेरोजगार और किसान मायूस हैं. पूनिया ने बताया कि जन आक्रोश रैली में जनता की लाखों में शिकायत मिली है. गौरतलब है कि केंद्रीय जल संसाधन मंत्री ने कहा है कि 14 लाख शिकायतें मिली हैं.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

यह भी पढ़ें: राजस्थान के तीनों बागी नेताओं को अभी नहीं मिली क्लीन चिट- केसी वेणुगोपाल

बीजेपी में मुख्यमंत्री के फेस पर बोले पूनिया
जब पूनिया से पूछा गया कि क्या वे भावी मुख्यमंत्री हैं तो उन्होंने कहा कि पहले हमारी कोशिश है कि कांग्रेस पार्टी सत्ता से बाहर किया जाए. दूसरा यहां कोई मुख्यमंत्री के लिए लड़ाई नहीं है. यहां कांग्रेस को बाहर करने की और बीजेपी को काबिज करने की लड़ाई है. पार्टी संसदीय दल अपने आप में सक्षम है. जिसको नेता तय किया जाएगा पार्टी के सभी विधायक उसी को सर्वमान्य नेता मानेंगे.

ADVERTISEMENT

    ADVERTISEMENT