भाजपा में वर्चस्व की लड़ाई आई सामने, जन आक्रोश यात्रा में महिला नेताओं ने एक-दूसरे को जड़ा थप्पड़

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

अलवर जिले में भाजपा नेताओं के बीच चल रही खींचतान अब खुलकर सामने आ रही है. जन आक्रोश यात्रा के बीच भाजपा नेता आपसे में ही लड़ते नजर आ रहे हैं. अलवर जिले के थानागाजी में बीते दो दिनों में तीन ऐसे वाकये हुए जिनकी वीडियो अब जमकर वायरल हो रही है.

पहला मामला – दो महिला नेताओं ने एक-दूसरे को जड़ा थप्पड़
थानागाजी में भाजपा की दो महिला नेताओं का झगड़े का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. जिसमें वह एक-दूसरे को थप्पड़ जड़ती दिखाई दे रही है. यह वीडियो ग्रामीणों ने मोबाइल में कैद कर लिया जिसे सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया. भाजपा की जन आक्रोश यात्रा के दौरान थानागाजी विधानसभा क्षेत्र के सालेटा गांव में सोमवार को भाजपा की दो महिला पदाधिकारी रूबिया उपाध्याय और प्रियंका शर्मा आपस में वर्चस्व की लड़ाई को लेकर भीड़ गई. जिसमें दोनों ने एक दूसरे के थप्पड़ जड़ दिए.

भाजपा की ओर से प्रियंका शर्मा को यात्रा के संयोजक बनाया गया है जबकि रूबिया उपाध्याय महिला संगठन और पार्टी में पूर्व जिला मंत्री रही है और वरिष्ठ नेताओं में गिनी जाती है. रुबिया 2018 में थानागाजी से भाजपा की टिकिट की दौड़ में शामिल रही थी. पार्टी की जन आक्रोश यात्रा ढीगारिया गांव पहुंची थी. तब दोनों में आपसी कहासुनी हो गई थी, इसके बाद सालेटा गांव में जन आक्रोश यात्रा पहुंची तो दोनों पदाधिकारी आपस में भिड़ गई और प्रियंका शर्मा ने रूबिया उपाध्याय के साथ बदतमीजी की तो रूबिया ने उसे थप्पड़ जड़ दिया. इसके बाद पार्टी के नेताओं ने बीच-बचाव किया.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

दूसरा मामला- पूर्व मंत्री ने पार्षद से कहा, आप मत बोलो, दो कौड़ी के आदमी हो.
दौसा सांसद जसकौर मीणा की मौजूदगी में थानागाजी में जन आक्रोश यात्रा के दौरान वार्ड पार्षद रोहिताश गांगड़ बोलने के लिए खड़े हुए तो पूर्व मंत्री हेमसिंह भड़ाना ने उन्हें रोक दिया कि आप मत बोलो दो कौड़ी के आदमी हो. इसका रोहतास गांगड़ ने विरोध किया और कहा कि वह वर्तमान पार्षद हैं और सांसद 3 साल बाद उनके क्षेत्र में आई है तो कुछ जनता के विकास की मांग के लिए वह खड़े हुए हैं. इसलिए किसी की आवाज को नहीं दबाया जा सकता. इसके बाद मंत्री हेमसिंह भड़ाना उनसे उलझ गए. इस बात को लेकर के विवाद हुआ तब जिला अध्यक्ष संजय नरूका ने बीच बचाव किया. इस दौरान जिलाध्यक्ष संजय नरुका यह भी कहते दिखाई दे रहे हैं कि कोई भी पार्टी अनुशासन तोड़ेगा उसे बाहर किया जा सकता है. पार्टी का अनुशासन किसी को नहीं तोड़ने दिया जाएगा.

यह भी पढ़ें: करौली: 350 बहनों के भाई हैं अनिल, गरीब और मजबूर लड़कियों की कराते हैं शादी

ADVERTISEMENT

तीसरा मामला – मंडल अध्यक्ष ने दूसरे भाजपा नेता से कहा, उठाकर गाड़ी में पटक दूंगा
तीसरा मामला थानागाजी विधानसभा क्षेत्र ही है जिसमे भाजपा की जन आक्रोश यात्रा के दौरान भाजपा नेता आपस में भीड़ रहे हैं. इसी तरह का एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें भाजपा के थानागाजी मंडल अध्यक्ष श्रवण जांगिड़ भाजपा के नेता महंत प्रकाश दास से उलझ रहे हैं और उन्हें उठाकर गाड़ी में पटक देने की बात कह रहे हैं. इसके अलावा पूर्व मंत्री हेमसिंह भड़ाना और लालाराम बागड़ा, पूर्व मंडल महामंत्री के बीच भी आपस में तीखी नोकझोंक हुई थी.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें: जयराम रमेश ने राजस्थान में नेतृत्व परिवर्तन को लेकर दिया ये बड़ा इशारा, जानें

जिलाध्यक्ष ने दी चेतावनी
भाजपा जिला अध्यक्ष संजय नरूका ने बताया कि पार्टी में जन आक्रोश यात्रा में आपसी वर्चस्व की लड़ाई करने वाले नेताओं पर निगरानी रखी जा रही है, उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. इसके लिए उच्च पदाधिकारियों को रिपोर्ट भेजी जाएगी. पार्टी में अनुशासनहीनता किसी भी रूप में बर्दाश्त नहीं की जाएगी.

कंटेंट: संतोष शर्मा

    ADVERTISEMENT