भारत जोड़ो यात्रा: राहुल के साथ चाय का कमाल! जो काम 15 साल में नहीं हुआ वो 1 घंटे में हो गया

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

Bharat Jodo Yata: भारत जोड़ो यात्रा के दूसरे दिन राहुल गांधी झालावाड़ जिले में शाम को चंडी बाई रैगर के घर टी ब्रेक के लिए रुके. इस टी ब्रेक ने एकबारगी प्रदेश के विकास की पोल खोल दी. सूरज ढल रहा था और चंडी बाई का घर अंधेरे में डूब रहा था. राहुल गांधी ने पूछ लिया लाइट नहीं है क्या? फिर जो तस्वीर सामने आई वो चौंकाने वाली थी.

राहुल गांधी के टी ब्रेक ने ऐसा कमाल दिखाया कि जो काम पिछले 15 सालों में नहीं हुआ महज 1 घंटे में हो गया. चंडी बाई के घर बिजली आ गई और उनका घर भी विकास की रौशनी में चमक गया. 

दरअसल जब राहुल गांधी के मन में ये जिज्ञासा हुई कि दूर-दराज के गांव ढाणियों में लोगों का जीवन कैस है. इसी को देखने के लिए राहुल चंडी बाई के घर टी ब्रेक पर रुक गए. राहुन चन्नी बाई के साथ बैठकर चाय पीते हुए पूछ बैठे- बिजली नहीं है क्या?

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

जो जवाब आया वो चौंकाने वाला था
इधर चंडी बाई ने बताया कि वो और उनका परिवार पिछले 15 सालों से विकास की इस रौशनी का इंतजार कर रहा है. पिछले डेढ़ साल से फाइलें अटकी हैं. इसके लिए रिश्वत भी दे चुकी हैं पर काम हुआ नहीं. इधर ये सब सुनते ही राहुल गांधी ने सीएम गहलोत की तरफ देखा. सीएम ने जयपुर फोन घुमाया और जो काम 15 साल में नहीं हुआ वो एक घंटे में हो गया.

चंडी बाई की चाय कमाल कर गई
चंडी बाई को भी सियायत समझ आ ही गई होगी. जो काम बिजली विभाग चक्कर लगाने से नहीं हुए. नियम कायदे से चलने से नहीं हुए. नियम कायदे को ताक पर रख रिश्वत दे देने से भी नहीं हुए वो काम राहुल गांधी के साथ एक कप चाय ने कर दिया. अब चंडी बाई मंगलवार की शाम और राहुल के साथ पी गई वो चाय पूरी जिंदगी नहीं भूल पाएंगी.

ADVERTISEMENT

अगले दिन सजग दिखे सीएम गहलोत
अगले दिन यानी यात्रा के तीसरे दिन राहुल गांधी फिर एक किसान के घर चाय पीने पहुंचे. इस बार सीएम गहलोत पहले से ही सजग थे. वे सबसे पहले वहां पहुंच गए और इस बात से आश्वस्त हो लिए कि कहीं कोई कमी तो नहीं है.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें: राहुल गांधी के साथ गहलोत और पायलट दिखे एक ही टेबल पर, चाय पर चर्चा भी हुई, जानें

    ADVERTISEMENT