Rajasthan Weather: राजस्थान के इन जिलों में कड़ाके की ठंड, पानी बना बर्फ, अगले 4-5 दिन तक शीत लहर का अलर्ट

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

Rajasthan Weather Today: प्रदेश में सर्दी का सितम जारी है. बर्फ जमा देने वाली ठंड से ठिठुर रहे आम जन को कोई राहत मिलती नहीं दिख रही. मौसम विभाग की मानें तो शीत लहर का दौर आगामी 4-5 दिनों तक जारी रहेगा. फिलहाल पूरे प्रदेश के मौसम में कोई बड़ा बदलाव देखने को नहीं आया है. शुक्रवार सुबह सीकर और बीकानेर में न्यूनतम तापमान 0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो पूरे प्रदेश में सबसे कम रहा. अगर अधिकतम तापमान की बात करें तो शुक्रवार सुबह फलौदी का तापमान 24.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

गौरतलब है कि हिल स्टेशन माउंट आबू में गुरुवार सुबह न्यूनतम तापमान -6 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ. न्यूनतम तापमान में आई इस गिरावट के चलते रात में पड़ने वाली ओस की बूंदें बर्फ की चादर में तब्दील हो गई थीं. यही नहीं, कड़ाके की सर्दी के कारण मैदानी इलाके और झील के किनारे बर्फ भी जम गई.

भीलवाड़ा की बात करें तो यहां का न्यूनतम तापमान 1.4 डिग्री सेल्सियस जा पहुंचा है. भीलवाड़ा के जिला कलेक्टर आशीष मोदी ने सभी निजी और सरकारी स्कूलों में कक्षा 8 तक के छात्रों के लिए 11 जनवरी तक अवकाश घोषित कर दिया है. बढ़ती ठंड और शीत लहर के प्रकोप को देखते हुए बारा में भी सभी सरकारी और निजी स्कूलों में शीतकालीन अवकाश को 9 जनवरी तक बढ़ा दिया गया है.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

यह भी पढ़ें: फतेहपुर शेखावटी में कश्मीर जैसे नजारे, रेत के धोरों पर जमी बर्फ

करौली में हल्की बारिश की बूंदें भी
करौली जिले में भी शीतलहर और कोहरे ने लोगों का घरों से बाहर निकलना मुश्किल कर दिया है. पिछली रात कोहरे और कोहरे के साथ में हल्की-हल्की बारीश की बूंदों ने आम जन की परेशानी और बढ़ा दी है. फिलहाल कुछ दिनों तक मौसम की मार आम जन जीवन पर यूं ही जारी रहेगी. मौसम विभाग की मानें तो अगले 4-5 दिन में इससे कुछ राहत मिल सकती है.

ADVERTISEMENT

पाली जिले में कड़ाके की सर्दी के चलते स्कूलों में छुट्टियां
पाली जिले के सुमेरपुर के पास जवाई बांध पर जहां पर्यटकों को पेंथर के दर्शन करवाये जाते हैं वहां उपयोग में ली जाने वाली जिप्सी पर अल सुबह ओस की बूंदें बड़ी बर्फ की परत में बदल गई और वाहन चालक बर्फ की परत को हटाने का प्रयास करते नजर आये. इसी तरह कल मारवाड़ केर चेलावास में भी वाहनों पर बर्फ की परत जमी नजर आई. पाली में भी कड़ाके की ठंड को देखते हुए स्कूलों की छुट्टियां कर दी गई हैं.

ADVERTISEMENT

सीकर में 14 साल बाद देखने को मिल रही है ऐसी ठंड
सीकर में भी 14 साल बाद जनवरी में लगातार चार दिनों से पारा जमाव बिंदु के आसपास दर्ज किया गया. शेखावाटी में सर्दी का कहर लगातार जारी रहने से लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. वहीं जिले में सर्दी के सितम को देखते हुए स्कूलों की शीतकालीन छुट्टियां भी बढ़ा दी गई है.

झालावाड़ में भी शीत लहर से जनजीवन हुआ अस्त व्यस्त
झालावाड जिले में पिछले 4 दिन से शीतलहर चल रही है जिसके कारण जन जीवन अस्तव्यस्त हो गया है. शुक्रवार सुबह से ही शहर में कोहरा छाया हुआ है. आज न्यूनतम तापमान 3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. 100 मीटर दूरी की बिल्डिंग कोहरे के कारण साफ दिखाई नहीं दे रही है. सिटी फोरलेन पर भी कोहरे के कारण वाहनों को लाईटें जलाकर वाहन चलाना पड रहा है. तेज सर्दी की वजह से जिला कलेक्टर ने 6 जनवरी एव 7 जनवरी को अवकाश घोषित किया है.

इनपुट- भीलवाड़ा से प्रमोद तिवारी, पाली से भारत भूषण जोशी, सीकर से सुशील कुमार जोशी, करौली से गोपाल लाल माली, बारां से राम प्रसाद मेहता, झालावाड़ से फिरोज अहमद खान

यह भी पढ़ें: राजस्थान में कड़ाके की ठंड, पत्तों पर जमीं बर्फ, देखें तस्वीरें

    ADVERTISEMENT