जोधपुर: बाल विवाह के बाद गौना नहीं करने पर 25 लाख का जुर्माना! पीड़िता ने खाया जहर

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

Jodhpur News: जोधपुर जिले के एक गांव में 10 साल पहले हुए बाल विवाह में लड़की ने ससुराल जाने से इनकार कर दिया है, धोलासर गांव की रहने वाली सरला का 12 साल की उम्र में बाल विवाह हुआ था. उस दौरान होने वाला पति राजूराम 26 साल का था अब इस समय सरला 22 साल की हो चुकी है और ग्रेजुएशन कर रही है.

ससुराल पक्ष द्वारा लगातार गौने को दबाव बनाया जा रहा है, इसके लिए ससुराल पक्ष ने पंचायत द्वारा सरला के परिवार पर जुर्माना लगाने की तैयारी कर दी. यह पूरी वारदात जब सरला को पता चली तो सरला ने जहर खा लिया, अब फिलहाल सरला जोधपुर के मथुरादास हॉस्पिटल में जिंदगी और मौत के बीच जंग लड़ रही है.

सरला का होने वाला पति राजूराम 14 साल बड़ा है, अब सरला ने यह तय कर लिया है कि 14 साल बड़े युवक के साथ नहीं रहेगी और पढ़ लिखकर नौकरी करेगी. जोधपुर ग्रामीण एसपी अनिल कयाल ने बताया कि इस पूरे घटनाक्रम में हमने पीड़िता सरला के बयान ले लिए हैं और राजूराम व उसके परिवार को पाबंद भी किया है. कुछ समय के लिए यह परिवार शांत रहा लेकिन फिर दबाव बनाकर गौने लिए बार-बार परेशान कर रहे हैं.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

यह भी पढ़ें: खुशखबरी! 48,000 पदों पर होगी REET परीक्षा, विज्ञप्ति जारी, देखें परीक्षा शेड्यूल

अब इस पूरे घटनाक्रम में सरला के माता-पिता ने यह निर्णय लिया है कि सरला का गौना नहीं किया जाएगा लेकिन 8 दिसंबर को समाज के लोगों ने गांव में पंचायत बुलाकर 25 लाख रुपए की जुर्माने की धमकी दी है, इससे सरला के पिता परेशान हो गए हैं और माता-पिता को परेशान देखकर सरला खेत पहुंची और जहर खा लिया, जिसके बाद जब घर लौटी तो उल्टियां हो रही थी. तब परिवारवालों ने तुरंत फलौदी के राजकीय चिकित्सालय में ले गए जहां प्राथमिक उपचार के बाद उसे जोधपुर के मथुरादास माथुर हॉस्पिटल रेफर किया गया.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें: भारत जोड़ो यात्रा का 11वां दिन: दौसा पहुंची यात्रा, लंच ब्रेक के समय किसानों की समस्या सुनेंगे राहुल गांधी

ADVERTISEMENT

    ADVERTISEMENT