कोटा: परीक्षा पास कराने के बदले छात्राओं से अस्मत मांगने वाले RTU प्रोफेसर को वकील ने जड़ा थप्पड़

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

RTU News Kota: कोटा के राजस्थान टेक्नीकल यूनिवर्सिटी (RTU) के एसोसिएट प्रोफेसर को कोर्ट में पेश करते समय एक वकील ने उसे थप्पड़ जड़ दिया. दरअसल एसोसिएट प्रोफेसर पर छात्राओं को बिचौलिया छात्र के माध्यम से फोन कराकर फिजिकल रिलेशन बनाने का दबाव बनाने का अरोप है. एक छात्रा ने एसोसिएट प्रोफेसर के खिलाफ मामला दर्ज कराया था. बुधवार देर रात पुलिस ने प्रोफेसर और बिचौलिया छात्र को गिरफ्तार कर लिया. गुरुवार को पुलिस आरोपियों को कोर्ट में पेश करने जा रही थी तभी एडवोकेट अतीश सक्सेना ने आरोपी प्रोफेसर को थप्पड़ जड़ दिया.

छात्रा ने एसोसिएट प्रोफेसर गिरीश परमार पर फेल करने की धमकी देकर शारीरिक संबंध बनाने का दबाव देने का आरोप लगाया है. मामले में एक छात्र अर्पित अग्रवाल पर आरोप है कि वो प्रोफेसर की डिमांड छात्राओं के सामने रखता था और बिचौलिए का काम करता था. मामले में एसोसिएट प्रोफेसर और अर्पित का ऑडियो भी वायरल हो गया है. 

छात्रा का आरोप- षड्यंत्र पूर्वक फेल कर दिया गया
छात्रा ने आरोप लगाया है कि उसे षड्यंत्र पूर्वक पहले फेल कर दिया गया. बाद में संबंध बनाने पर पास करने का ऑफर दिया गया. बीटेक की इस छात्रा ने शहर के दादाबाड़ी थाने में केस दर्ज कराया है. छात्रा ने आरोप लगाया है कि उसके सहपाठी छात्र के माध्यम से प्रोफेसर गिरीश परमार ने टेस्ट में पास करवाने के एवज में उसके साथ शारीरिक संबंध बनाने के लिए दबाव बनाया. छात्रा ने इसके लिए मना किया तो उन्होंने छात्र के माध्यम से अन्य छात्राओं को टारगेट किया. आरोपी प्रोफेसर छात्राओं पर दबाव बनाने के लिए एक छात्र को जरिया बनाते हैं.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

यह भी पढ़ें: पास कराने के बदले छात्राओं से फिजिकल डिमांड का ऑडियो Viral, प्रोफेसर के खिलाफ केस दर्ज

मेरे पास पैसा है, मैं कुछ भी कर सकता हूं- ऑडियो
वायरल ऑडियो में दो लोगों की बातें हैं. इनमें एक छात्र की आवाज बताई जा रही है और दूसरा कथित प्रोफेसर की. कथित तौर पर प्रोफेसर छात्र से कह रहा है कि मेरे पास पैसा है मैं कुछ कर सकता हूं. उधर बिचौलिया छात्र भी प्रोफेसर से बता रहा है कि उसने छात्रा से इशारे में कह दिया है कि उनके पास पैसे की कमी नहीं है, उन्हें पास कराने के एवज में पैसा नहीं कुछ और चाहिए.

ADVERTISEMENT

    ADVERTISEMENT