Video: पानी की किल्लत से परेशान महिला ने अधिकारी को दी धमकी, कहा- इतना उछालूंगी कि याद रखेंगे

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

Rajasthan News: भयंकर सर्दी में भी राजस्थान के बाड़मेर में लोगों को पर्याप्त पानी नहीं मिल पा रहा है. हालत यह है कि पेयजल की किल्लत से परेशान एक महिला ने पीएचईडी अधिकारी को खरी खोटी सुनाते हुए धमकी तक दे डाली. महिला ने राजस्थानी लहजे में पीएचईडी के अधिकारी को लताड़ लगाते हुए कहा कि अगर समय रहते पानी की सप्लाई नहीं हुई तो अधिकारी को कुर्सी से नीचे पटककर इतना उछालूंगी कि अधिकारी याद रखेंगे. बेबाक महिला का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल तो हर कोई उनकी तारीफ कर रहा है.

गौरतलब है कि बाड़मेर जिले के बालोतरा कस्बे समेत पचपदरा एवं आसपास के इलाकों में पिछले काफी समय से पानी की भयंकर किल्लत है. कई जगह पानी सप्लाई की पाइपलाइन लीकेज होने तो कहीं पाइपलाइन टूट जाने के कारण लोगों के घरों तक पानी नहीं पहुंच रहा है. कई बार लोगों ने पीएचईडी विभाग के अधिकारियों को शिकायत कर अवगत भी करवाया लेकिन समस्या का कोई समाधान नहीं हुआ. पिछले कुछ दिनों से बालोतरा एवं आसपास के गांव के लोग पानी की किल्लत को लेकर लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं. वही सोमवार को कस्बे के महिला पुरुष प्रदर्शन करते हुए पीएचईडी कार्यालय आ धमके जहां गुस्साए लोगों ने अधिकारियों को जमकर लताड़ लगाई.

खारा पानी पीकर जनता मर जाएगी तो वोट किससे लोगे: प्रदर्शनकारी महिला
लोगों का कहना है कि कई महीनों से उनके घरों में पानी नहीं आ रहा. लिहाजा, लोग पानी के टैंकर डलवा कर काम चला रहे हैं. पीएचईडी कार्यालय में कुछ महिलाओं ने अधिकारियों का घेराव करते हुए खरी-खोटी तक सुना दी. एक महिला ने जहां अधिकारी को धमकी दे डाली तो एक अन्य महिला ने यह भी कहा कि खारा पानी पीकर लोग मर जाएंगे तो नेता वोट किस से लेंगे. आखिरकार अधिकारी ने आश्वासन देकर अपना बचाव किया.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

यह भी पढ़ें: BJP विधायक ने पायलट के बयान का किया समर्थन, विधानसभा सत्र के दौरान कही ये बड़ी बातें, जानें

700 दिनों से चल रहा धरना-प्रदर्शन
जिले में पीने के पानी की कितनी किल्लत है, इस बात को सिवाना में चल रहे धरना प्रदर्शन से भी समझा जा सकता है. पिछले 700 दिनों से जिले के सिवाना कस्बे में लोग पीने के पानी की मांग को लेकर धरना प्रदर्शन कर रहे हैं. इतना लंबा धरना चलने के बावजूद भी सरकार के कानों तक जूं भी नहीं रेंगी है.

ADVERTISEMENT

विधानसभा में गूंजा पेयजल किल्लत का मुद्दा
एक तरफ बालोतरा कस्बे में लोग पानी की किल्लत को लेकर लोग प्रदर्शन कर रहे थे तो दूसरी तरफ पचपदरा विधानसभा से आने वाले कांग्रेस के विधायक भी विधानसभा में पेयजल किल्लत की बात प्रश्नकाल के दौरान रख रहे थे. विधायक मदन प्रजापत ने कहा कि मेरे इलाके में सर्दी में भी पानी की इतनी किल्लत है कि लोग लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं. प्रजापत ने कहा कि पेयजल परियोजना का काम ठप्प पड़ा है और कई जगह पाइपलाइन लीकेज है, टूटी पड़ी है. इसके अलावा इलाके में संबंधित अधिकारियों और कर्मचारियों की भी कमी है. विधायक प्रजापत ने कहा कि सरकार समय रहते मेरे इलाके में अधिकारियों और कर्मचारियों की पूर्ति करवाएं ताकि जो लोग पानी के लिए हड़ताल और भूख हड़ताल कर रहे हैं उन्हें कुछ राहत मिले.

ADVERTISEMENT

अधिकारी बोले- पानी की शोर्टेज
इस पूरे मामले को लेकर जलदाय विभाग के अधिकारियों का कहना है कि पिछले कुछ दिनों से पानी की शॉर्टेज है. इसी कारण से दिक्कत हो रही है. कुछ जगह पाइपलाइन भी लीकेज है. अगले 1 सप्ताह के अंदर बालोतरा कस्बे में पानी की सप्लाई सुचारू रूप से की जा सकेगी.

यह भी पढ़ें: सरकारी स्कूल का जायजा लेने पहुंचे कलेक्टर, जमीन पर बैठे ठंड से ठिठुरते नजर आए बच्चे

    ADVERTISEMENT