Rajasthan: पैसे कमाने के लिए 19 साल के 2 युवक ये क्या करने लगे, पुलिस ने पकड़ा तो सामने आई असलियत

ADVERTISEMENT

Rajasthan: पैसे कमाने के लिए 19 साल के 2 युवक ये क्या करने लगे, पुलिस ने पकड़ा तो सामने आई असलियत
Rajasthan: पैसे कमाने के लिए 19 साल के 2 युवक ये क्या करने लगे, पुलिस ने पकड़ा तो सामने आई असलियत
social share
google news

Rajasthan: बाड़मेर में पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए तीन तस्करों को गिरफ्तार किया है. तीनों की उम्र महज 19 से 20 साल के बीच है. पुलिस ने इन तस्करों के कब्जे से 6 पिस्टल और 12 जिंदा कारतूस बरामद किए है. हस्ट्रीशीटर समेत तीनों बदमाश एमपी से अवैध हथियार लाकर राजस्थान में अवैध तरीके से सप्लाई का काम करते थे. फिलहाल, पुलिस तीनों आरोपियों से पूछताछ में जुटी है.

दरसअल, बाड़मेर डीएसटी टीम के हेड कांस्टेबल मेहाराम को सूचना मिली थी कि आरजीटी थाना का हिस्ट्रीशीटर और अवैध हथियार तस्कर देवीलाल मध्यप्रदेश से भारी मात्रा में अवैध हथियार लाया है. जो अपने सहयोगियों के साथ सप्लाई की फिराक में हैं. एसपी दिगंत आनंद के मुताबिक गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस ने टीम बनाकर रावली नाडी नगर निवासी देवीलाल उर्फ देवाराम (19) पुत्र किशनाराम, सांचौर निवासी 20 वर्षीय श्रीराम पुत्र भागीरथराम और विक्रम पुत्र वागाराम निवासी पुर सांचौर को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से 6 अवैध पिस्टल और 12 जिंदा कारतूस बरामद करने में सफलता हासिल की है.

20 से 25 हजार में बेचते थे पिस्टल

एसपी दिगंत आनंद ने बताया कि पुलिस की प्रारंभिक पड़ताल में सामने आया है कि आरोपी एमपी से अवैध पिस्टल और जिंदा कारतूस खरीदकर लाते थे और राजस्थान में 2 राउंड के साथ 1 पिस्टल करीब 20 से 25 हजार रुपए में बेचते थे. पुलिस ने तीनों के कब्जे से एक स्पोर्ट्स बाइक भी बरामद की है. एसपी के मुताबिक तीनों हथियार कहां से लेकर आए और किनको सप्लाई करने वाले थे. पुलिस तस्करों से हर एंगल से पूछताछ में जुटी है.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

देवीलाल हैं गैंग का मुख्य सरगना, 3 जिलों में 9 मामले दर्ज

पुलिस के मुताबिक देवीलाल इस गैंग का मुख्य सरगना है. देवीलाल अपने दो साथियों के साथ मिलकर गैंग को ऑपरेट करता था. तीनों बदमाश मध्यप्रदेश से अच्छे हथियार और कारतूस लाते थे और स्थानीय बदमाशों और तस्करों को हथियार सप्लाई करने का काम पिछले कई सालों से कर रहे थे. हिस्ट्रीशीटर देवीलाल के खिलाफ बाड़मेर, बालोतरा और सांचौर जिले में अलग-अलग करीब 9 मामले दर्ज हैं. इसमें 6 मामले अवैध हथियार, दो मामले मादक पदार्थ तस्करी और एक मामला मारपीट का दर्ज हैं. वहीं आरोपी श्रीराम के खिलाफ सांचौर और बाड़मेर जिले में मारपीट, हत्या का प्रयास समेत अन्य धाराओं में चार मामले दर्ज है.

    ADVERTISEMENT